पीओएसपी इन्शुरन्स एजेंट सभी कंपनी के इन्शुरन्स प्रोडक्ट्स बेच सकते है | लेकिन हम जब इन्शुरन्स का लाइसेंस लेते है, उस लाइसेंस को सिर्फ एक ही लाइफ इन्शुरन्स और एक जनरल इन्शुरन्स का मिलता है |

जिस कंपनी के साथ हम जुड़े उसी का काम हमें करना होता है | कई बार अलग अलग कंपनी के अलग अलग प्रोडक्ट्स अच्छे होते है |   

इसके लिए पीओएसपी इन्शुरन्स एजेंट बनना एक अच्छा विकल्प हो सकता है | 

PoSP इन्शुरन्स एजेंट क्या है ?

पीओएसपी  का अर्थ है एक ऐसे उत्पाद का सरल सादे वेनिला प्रकार जिसमें प्रत्येक लाभ को पूर्वनिर्धारित और बिक्री के समय स्पष्ट रूप से प्रकट किया जाता है और समझने के लिए बहुत सरल है।

PoSP का मतलब  पॉइंट ऑफ़ सेल पर्सन |

PoSP इन्शुरन्स एजेंट बनने के फायदे :

बीमा क्षेत्र के लिए PoSP बनने के कुछ फायदों की जाँच करते है :

  • हमें सभी इन्शुरन्स कंपनी  प्रोडक्ट बेचने मिलते है मिलते है | इससे हमारी प्रोडक्ट की रेंज बढ़ जाती है |
  • इससे हम जो समझाने और समझने आसान प्रोडक्ट है उससे अपना ध्यान केंद्रित कर सकते है |
  • अपने ग्राहक  सभी इन्शुरन्स जरूरतों को पूरा  सकते है |
  • जबकि सामान्य बीमा एजेंट अपनी कंपनियों के बीमा उत्पादों को अकेले बेच सकते हैं, POSP कई बीमा कंपनियों और जीवन भर और गैर-जीवन दोनों श्रेणियों की पॉलिसी बेच सकते हैं।
  • POSP बिना अंडरराइटिंग के सीधे बीमा पॉलिसी जारी कर सकता है।
  • POSP ग्राहकों को त्वरित सेवा प्रदान करने के लिए आसानी से उपयोग और कुशल प्रौद्योगिकी प्लेटफार्मों के साथ प्रदान की जाती है।
  • POSP बुनियादी और पारदर्शी बीमा योजनाएं बेच सकती है जो संपूर्ण सुरक्षा और कर लाभ प्रदान करती हैं।
  • POSP अधिक विश्वास हासिल कर सकता है और ग्राहक संबंधों में सुधार कर सकता है क्योंकि वे स्थानीय रूप से उनके लिए उपलब्ध हैं।

 पात्रता मापदंड (Eligibility Criteria):

PoSP बीमा एजेंट बनने के लिए निम्नलिखित न्यूनतम आवश्यकताएं हैं:

  • भारत का निवासी
  • न्यूनतम आयु 18 वर्ष
  • उत्तीर्ण माध्यमिक विद्यालय, मैट्रिकुलेशन या अन्य कोई समकक्ष
  • पैन कार्ड
  • आधार कार्ड
  • बैंक खाता

PoSP इन्शुरन्स एजेंट बनने की प्रोसेस 

स्टेप १  – जिस कंपनी के जुड़ना है उसका फॉर्म फील अप 

पहले आप जिस कंपनी के साथ जुड़ना चाहते है उस कंपनी की वेबसाइट पे जाके उसपर आप फॉर्म फील  कर ले | 

स्टेप २ – ऑनलाइन ट्रेनिंग  

पीओएस (PoS) लाइसेंस के लिए आवेदन करने वाले व्यक्ति को न्यूनतम 15 घंटे के प्रशिक्षण से गुजरना पड़ता है। आप ये ट्रेनिंग ऑनलाइन अपने कम्प्यूटर या मोबाइल से कर सकते है |

ट्रेनिंग पूरा होने पे एक ऑनलाइन एग्जाम पास करनी होती है | उसे पास करने के बाद आप को सर्टिफिकेट आ जायेगा| इस सर्टिफिकेट की वैलिडिटी लाइफ टाइम की है | 

स्टेप ३ – स्टार्ट बिज़नेस   

आपके  ऑनलाइन लॉगिन में लाइसेंस एक्टिवेट हो जाने के बाद आप अपना इन्शुरन्स का बिज़नेस शुरू कर सकते है | आप अब सभी कंपनी के इन्शुरन्स प्रोडक्ट बेचने के लिए तैयार हो गए है |

आप अब निचे दिए सभी कंपनी के प्रोडट्स बेच सकते है | 

  • टर्म इन्शुरन्स, Endowment प्लान , इमीडियेट एन्युटी प्लान
  • मेडिक्लेम
  • २ व्हीलर, कार इन्शुरन्स
  • ट्रेवल इन्शुरन्स पर्सनल एक्सीडेंटल इन्सुरन्स

POSP द्वारा कोनसे से इन्शुरन्स प्रोडक्ट्स को बेचा जा सकता है?

POSP के माध्यम से बेची जाने वाली नीतियों को अलग से पहचाना जाना चाहिए और (POS – (उत्पाद का नाम) ‘प्रारूप द्वारा पूर्व-निर्धारित किया जाना चाहिए। गौरतलब है कि वे केवल नीचे दिए गए पूर्व-लिखित उत्पाद को हल कर सकते हैं और विपणन कर सकते हैं।

  • टू व्हीलर , निजी कारों और वाणिज्यिक वाहनों के लिए मोटर कॉम्पेरन्सिव पैकेज पॉलिसी।
  • गृह बीमा पॉलिसी
  • यात्रा बीमा पॉलिसी
  • व्यक्तिगत दुर्घटना नीति
  • दोपहिया, निजी कार और वाणिज्यिक वाहनों के लिए थर्ड पार्टी (तृतीय पक्ष) पॉलिसी ।
  • कोई अन्य पॉलिसी जिसे प्राधिकरण द्वारा विशेष रूप से अनुमोदित किया जाता है।
(Visited 7 times, 1 visits today)